विशेष - श्रीमदभागवत महापुराण कथा, पितृ दोष शांति निवारण , कालसर्प दोष, संगीतमय सुंदर कांड पाठ ....
।। महामृत्युंजय जाप ।।

Maha Mrityunjaya Jaap Maha Mrityunjaya Jaap

भगवान् शिवशंकर महादेव की असीम कृपा प्राप्त करने एंव असाध्य रोगो व कुंडली विशेषकर वैवाहिक , शारीरिक, व्यावसायिक बाधाओं के निवारण हेतु प्रायः महामृत्युंजय मंत्र का जाप व पाठ (Maha Mrityunjaya Jaap Benefits) कराने का परामर्श दिया जाता है। शिवशंकर भगवान् का अचूक मंत्र होने के कारण इसका जाप , पाठ,कुशल पंडितजी से कराकर जीवन में तुरंत लाभ उठाया जा सकता है .प्रायः ऐसा देखा गया है की कुछ पंडितो के द्वारा कई व्यक्तियों का सामूहिक संकल्प लेकर एक साथ जाप किया जाता है जो कि सर्वधा अनुचित है। वैदिक नियमानुसार एक व्यक्ति के नाम व गौत्र से संकल्प लेकर पूरे सवा लाख मंत्रो का अलग-अलग जाप व हवन होना चाहिए।

हमारे पास आये कई व्यक्तियों के द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार कई बड़े स्थानों , तीर्थो जैसे त्रयम्केश्वर , नासिक ,बैजनाथ, काशी , हरिद्वार आदि स्थानो पर एक साथ कई नाम व गौत्र के लोगो का इकठ्ठा संकल्प लेकर एक ही साथ सवा लाख जाप किया जो कि सर्वथा अनुचित होगा।

वास्तव में अलग-अलग नाम राशि व गौत्र होने के कारण प्रत्येक व्यक्ति के लिए अलग-अलग सवा लाख मंत्रो का जाप करने का विधान है।

शुद्ध व विधिवत महामृत्युंजय जाप व पाठ (mahamrityunjay jaap) के लिए अधिक परामर्श हेतु संपर्क करे ।